इंग्लैंड के खिलाफ राजकोट में Rajat Patidar को मिला तीसरे टेस्ट में भी मौका।

राजकोट में इंग्लैंड के खिलाफ चल रहे टेस्ट सीरीज में Rajat Patidar को तीसरे टेस्ट मैच में मौका मिला। लेकिन दुःख की बात यह है कि उन्होंने अपने बल्लेबाजी के माध्यम से सभी को निराश किया। रजत ने केवल 15 गेंदों का सामना कर बनाए 5 रन और फिर पवेलियन की ओर लौट गए। उनका डेब्यू टेस्ट मैच भी इतना उत्साहजनक नहीं रहा जितना कि उन्हें आशा थी। इस खास मैच में रजत ने सिर्फ 32 और 9 रन बनाए थे।

शुभमन गिल का फिर से विफलता का अनुभव

दूसरी ओर, शुभमन गिल का फिर से बल्लेबाजी में पुरानी लय में वापसी करना देखा गया। राजकोट टेस्ट के पहले दिन, गिल बिना खाता खोले आउट हो गए और मार्क वुड ने पवेलियन का रास्ता दिखाया। इससे पहले, श्रेयस अय्यर टेस्ट क्रिकेट में लगातार असफल रहे और उनकी टीम से छुट्टी कर दी गई।

Rajat Patidar के पिता हुए भावुक

आज टीम इंडिया की तरफ से टेस्ट क्रिकेट में सरफराज खान और ध्रुव जुरेल का डेब्यू हुआ। जब सरफराज को टेस्ट डेब्यू कैप मिली तो उनके पिता मैदान पर मौजूद थे और उनका उत्साह देखते ही कहीं अलग हो गया। शुरूआती दिन में Rajat Patidar की आउट होने के बाद उनके पिता के चेहरे पर इमोशनल छवि देखने को मिली।

rajat patidar father


नवीनतम स्थिति

राजकोट में चल रहे टेस्ट मैच में भारतीय टीम को अभी तक कुछ सफलता मिली है। वे अब अपने अगले दो दिनों के लिए उत्सुक हैं और स्थानीय लोग उन्हें पूरी स्थापना के साथ प्रतिस्पर्धा करते हुए देखने की उत्सुकता दिखा रहे हैं। रविंद्र जडेजा, जो जामनगर से हैं, उन्हें अपने शहर के प्रति भावनात्मक जज़्बे के कारण बड़ा समर्थन मिलेगा। वे मैच के दौरान मौजूद होने वाले लोगों की अपेक्षा कर रहे हैं ताकि वह अधिक उत्साहित हों और अच्छे प्रदर्शन के साथ खिलाड़ियों का समर्थन करें।

आगे की योजना

अब, भारतीय टीम के लिए चुनौती का समय है क्योंकि वे अपने खेल को सुधारने और अगले मैच में बेहतर प्रदर्शन करने के लिए तैयार हो रहे हैं। निराशाजनक प्रदर्शन के बावजूद, उन्हें अपने क्षमताओं पर भरोसा है और वे मैच के बचे हुए दिनों में संशोधित प्रदर्शन के साथ वापसी कर सकते हैं। उन्हें अपने दोषों पर विचार करने का एक अवसर मिलेगा और उन्हें अपनी ताकतों का सहारा लेने की आवश्यकता है जो उन्हें आगे बढ़ने में मदद कर सकती है।

Rajat Patidar का टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू मैच उनके लिए कठिन रहा। उन्होंने अपनी क्षमताओं का परिचय नहीं दिया और निराश कर दिया। वहीं, शुभमन गिल और श्रेयस अय्यर के प्रदर्शन भी उत्साहजनक नहीं रहे। ध्रुव जुरेल का उत्कृष्ट डेब्यू टीम इंडिया के लिए एक उज्ज्वल संकेत है। टेस्ट सीरीज के आगामी दिनों में हम देखेंगे कि कैसे खिलाड़ियों ने अपने प्रदर्शन को सुधारा और टीम के लिए उपयोगी साबित हुए।

Read More:

Rajkot Stadium को मिला नया नाम Niranjan Shah

14 February Black Day Pulwama Attack

Abu Dhabi Hindu Temple का उद्घाटन: मुख्य विवरण

India Vs England: टेस्ट सीरीज का महत्वपूर्ण मुकाबला

Yami Gautam Pregnancy: यामी गौतम और आदित्य धर की पहली संतान

अगर आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे जरूर शेयर करें और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़े रहें आपकी अपनी वेबसाइट bavaalnews.com के साथ। इस आर्टिकल के बारे में अपनी राय आप हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

Leave a Comment